0 1 min 5 mths

छत्रपति संभाजीनगर,(प्रतिनिधि):
एक डॉक्टर दंपति में पारिवारिक विवाद इतना बढ़ गया कि महिला ने अपने ही घर को आग के हवाले कर दिया. घर में रखा सामान और आवश्यक दस्तावेज जलकर राख हो गए. महाराष्ट्र के छत्रपति संभाजीनगर के एपीआई कॉर्नर परिसर में घटना घड़ी है. महिला के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है.

जानकारी के मुताबिक नालंदा कॉम्प्लेक्स, एपीआई कॉर्नर निवासी डॉ गोविंद सुभाषराव वैजवाड़े सिडको बस स्टैंड परिसर स्थित एक अस्पताल में कार्यरत हैं, जबकि उनकी पत्नी विनीता नक्षत्रवाड़ी के मेडिकल कॉलेज में प्राध्यापक हैं. वर्ष 2019 में इनका विवाह हुआ था. विनीता अक्सर अपने पति के चरित्र पर संदेह करती थीं. इसे लेकर दोनों में विवाद भी होता रहता था. रविवार की रात को भी दंपति आपस में झगड़ गए. शोर सुनकर यहां पहुंचे पड़ोसियों ने दोनों को काफी समझाया. इसके बावजूद देर
रात तक दंपति में विवाद चलता रहा.

आखिरकार एक पड़ोसी ने विनीता को वहां पर छोड़ दिया, जहां पर गोविंद काम करते हैं. ऐसे में वह सुबह 6 बजे तक वहीं पर थीं.

…..और आग लगा दी

सुबह 6 बजे घर पहुंचने पर विनीता ने जोर-जोर से दरवाजा खटखटाया. डॉ गोविंद ने दरवाजा खोला और बाहर चले गए. कुछ ही देर में शोर मचाया तो उस समय विनीता बैग लेकर बाहर निकल गईं. गोविंद के घर में जाने पर पता चला कि वहां आग लग गई है. देखते ही देखते पूरा घर आग की चपेट में आ गया. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस और फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंचीं और आग पर काबू पाया. हालांकि तब तक सोफा सेट, दो फ्रिज, एसी, टीवी, कूलर, अलमारी, शो-केस, दरवाजे, खिड़कियां आवश्यक दस्तावेज और कपड़े आग की भेंट चढ़ चुके थे. इसके बाद डॉ वैजवाड़े ने मुकुंदवाड़ी पुलिस थाने में शिकायत लिखाई. शिकायत के आधार पर पुलिस ने डॉ विनीता गोविंद वैजवाड़े के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *